UPSC aspirants के लिए चाणक्य नीति किस प्रकार उपयोगी हो सकता है।

प्रशासनिक सेवा में चाणक्य नीति का महत्व विशेष रूप से उसे तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए है। चाणक्य नीति व्यक्ति को नैतिक और राजनीतिक मूल्यों के साथ व्यवहार करने के लिए मार्गदर्शन प्रदान करती है जो प्रशासनिक सेवा में अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। यह सिद्धांत, योजना बनाने, निर्णय लेने, और लोगों के साथ सहयोगी संबंध बनाए रखने की कला में मदद कर सकती है।

Continue ReadingUPSC aspirants के लिए चाणक्य नीति किस प्रकार उपयोगी हो सकता है।

भारत-इजराइल संबंध

भारत इजराइल के मध्य 1990 के पहले कूटनीतिक संबंध प्रभावित नहीं थे। भारत इजराइल के स्थान पर फिलिस्तीन के पक्ष का समर्थन करता था। भारत द्विराष्ट्र की धारणा के आधार पर स्वतंत्र संप्रभु फिलिस्तीन का समर्थक था ।भारत के अनुसार इजरायल फिलीस्तीन के मध्य 1967 के पूर्व की स्थिति को बहाल करना चाहिए

Continue Readingभारत-इजराइल संबंध

Oil Politics तेल की राजनीति

"Hello Friends, इस लेख में "तेल की राजनीति" के सभी पक्षों का वर्णन किया गया है। हम आशा करते हैं कि हमारा लिखने का तरीका आपको समझने मे सहायता करेगा।…

Continue ReadingOil Politics तेल की राजनीति

भारत में बैंकों के राष्ट्रीयकरण का इतिहास

राष्ट्रीयकरण से तात्पर्य एक ऐसी प्रक्रिया से है, जिसमें निजी इकाई को सरकार के स्वामित्व में ला दिया जाता है। आजादी के दौरान भारत में कार्यरत सभी बैंक निजी क्षेत्र के थे। बैंकिंग क्षेत्र में धोखाधड़ी चरम पर थी। बैंक जमा कर्ता की जमा राशि लेकर भाग जाते थे।

Continue Readingभारत में बैंकों के राष्ट्रीयकरण का इतिहास

शीत युद्ध 2.0(Cold war2.0)

अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था में वैश्विक शक्तियों का उत्थान और पतन स्वाभाविक परिघटना रही है। इसी क्रम में वर्तमान वैश्विक व्यवस्था भी एक नए संक्रमणकालीन युग में प्रवेश कर गई है। जहां वैश्विक शक्ति के प्रमुख केंद्र अमेरिका और चीन के मध्य संघर्ष व तनाव की स्थिति विद्धमान है।

Continue Readingशीत युद्ध 2.0(Cold war2.0)

भारत में बैंकों का इतिहास (History of indian banks)

"Hello Friends, इस लेख में "भारत में बैंकों का इतिहास" के सभी पक्षों का वर्णन किया गया है। हम आशा करते हैं कि हमारा लिखने का तरीका आपको समझने मे…

Continue Readingभारत में बैंकों का इतिहास (History of indian banks)